Home देश-विदेश खत्म होते-होते रह गया गाजीपुर बॉर्डर का धरना, टिकैत का रोना बना टर्निंग प्वाइंट, जुटने लगे किसान तो पीछे हटी पुलिस, देर रात क्या हुआ

खत्म होते-होते रह गया गाजीपुर बॉर्डर का धरना, टिकैत का रोना बना टर्निंग प्वाइंट, जुटने लगे किसान तो पीछे हटी पुलिस, देर रात क्या हुआ

by admin

नई दिल्ली | गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा और लाल किले पर निशान साहिब फहराने की घटना के बाद किसानों का आंदोलन कमजोर पड़ता हुआ दिख रहा है। अब तक चार किसान संगठनों ने अपना धरना खत्म कर दिया है, मगर गाजीपुर बॉर्डर पर जंग तेज करने की तैयारी हो चुकी है। गाजीपुर बॉर्डर पर गुरुवार देर शाम से आधी रात तक हाईवोल्टेज ड्रामा चलता रहा। गाजीपुर बॉर्डर पर पुलिस और फोर्स की मौजूदगी इस ओर इशारा कर रही थी कि कल की रात आंदोलन के लिए निर्णायक रात होगी, मगर तभी राकेश टिकैत के एक प्रेस कॉन्फ्रेंस ने माहौल को बदल दिया। गाजियाबाद प्रशासन ने प्रदर्शनकारी किसानों को गुरुवार आधी रात तक यूपी गेट खाली करने का अल्टीमेटम दिया था, वहीं किसान नेता राकेश टिकैत अपनी मांग पर अड़े रहे और कहा कि वह आत्महत्या कर लेंगे लेकिन आंदोलन समाप्त नहीं करेंगे। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान टिकैत फूट-फूटकर रोते नजर आए।

गाजीपुर बॉर्डर का बदला नजर आया था नजारा
दिल्ली की सीमा से लगे यूपी गेट (गाजीपुर बॉर्डर) पर गुरुवार शाम को टकराव की स्थिति के बीच भारी संख्या में सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए। वहीं प्रदर्शन स्थल पर शाम में कई बार बिजली कटौती देखी गई, जहां टिकैत के नेतृत्व में भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के सदस्य 28 नवंबर से डटे हुए हैं। कल शाम को जिस तरह की पुलिस की तैयारी थी, उससे लगा कि कल ही वहां से किसानों का जमावड़ा हट जाएगा और कुछ हद तक किसानों ने अपना बोरिया-बिस्तर बांधना भी शुरू कर दिया था, मगर तभी रात को राकेश टिकैत मीडिया के सामने आते हैं और उनके आंसू किसानों के इरादों को बदल देते हैं। अब नौबत यह आ जाती है कि रात में ही पश्चिम उत्तर प्रदेश के किसान दिल्ली की ओर कूच कर चुके हैं।

आज बुलाई गई है पंचायत
यूपी सरकार द्वारा आंदोलन खत्म कराने के मौखिक आदेश के बाद भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत प्रदर्शन जारी रखने पर अड़े रहे। टिकैत ने रोते हुए कहा कि वे आत्महत्या कर लेंगे, लेकिन आंदोलन खत्म नहीं करेंगे। टिकैत ने बताया कि शुक्रवार सुबह से बड़ी संख्या में किसान धरनास्थल पर जुटना शुरू होंगे। इस सिलसिले में मुजफ्फरनगर में शुक्रवार सुबह पंचायत भी बुलाई गई है और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों से देर रात में किसानों ने दिल्ली की तरफ कूच करना शुरू कर दिया है।

रोने लगे टिकैत और किसानों का बदला इरादा
भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत पत्रकारों से बातचीत करते हुए रो पड़े। भावुक होते हुए टिकैत ने कहा, ”यहां अत्याचार हो रहा है, लेकिन हमारा आंदोलन जारी रहेगा। ये कानून वापस होंगे। यदि ये कानून वापस नहीं हुए तो राकेश टिकैत आत्महत्या करेगा।” उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि किसानों को मारने की कोशिश की जा रही है। बीजेपी के विधायक यहां 300 लोगों के साथ लाठी डंडे लेकर आए हैं। इससे पहले, टिकैत ने सरेंडर करने को लेकर जारी अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि वे सरेंडर नहीं करने जा रहे हैं। उन्होंने आगे कहा जिसने भी लाल किले पर तिरंगे के अलावा झंडा फहराया था, उसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट को जांच करनी चाहिए। उन्होंने कोर्ट से कमेटी के गठन की भी मांग की।

रात तक प्रदर्शनस्थल खाली कराने का था निर्देश
दरअसल, गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में हिंसा को लेकर तीन किसान संगठनों ने तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ अपना आंदोलन वापस ले लिया है। इसके बाद प्रशासन ने यह “मौखिक” निर्देश दिया। जिले के एक अधिकारी ने कहा कि गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने यूपी गेट पर डेरा डाले प्रदर्शनकारियों से संवाद किया और उन्हें रात तक प्रदर्शनस्थल खाली करने को कहा। ऐसा नहीं करने पर प्रशासन उन्हें हटा देगा। हालांकि, बीकेयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता टिकैत ने इस कदम के लिए उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस की निंदा की। बीकेयू मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक द्वारा जारी एक अलग बयान में, टिकैत के हवाले से कहा गया है कि उत्तर प्रदेश पुलिस प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही थी, जबकि उच्चतम न्यायालय ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को वैध ठहराया है। टिकैत ने कहा कि गाजीपुर की सीमा पर कोई हिंसा नहीं हुई है लेकिन इसके बाद भी यूपी सरकार दमन की नीति का सहारा ले रही है। यह यूपी सरकार का चेहरा है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रदर्शन जारी रहेगा

किसानों का जत्था पहुंच रहा धरना स्थल
गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस की प्राथमिकी में नामजद नेताओं में से एक राकेश टिकैत ने कहा कि लाल किले की घटना की न्यायिक जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उनके संगठन ने गणतंत्र दिवस पर लाल किले में हुई घटना में शामिल दीप सिद्धू का सामाजिक बहिष्कार कर दिया है। बीकेयू नेताओं के आह्वान पर गुरुवार रात पश्चिमी उत्तर प्रदेश से करीब 500 किसान विरोध स्थल पर पहुंच गए। प्रदर्शनकारियों ने दावा किया कि बृहस्पतिवार शाम से ही विरोध स्थल पर लगातार बिजली कटौती हो रही है जबकि बुधवार से टैंकरों में पानी की आपूर्ति बाधित रही।

‘गांव के किसानों द्वारा लाया पानी ही पीऊंगा’
राकेश टिकैत ने मीडिया से कहा, ‘मैं अब पानी नहीं पीऊंगा। मैं केवल वही पानी पीऊंगा जो गांवों से किसानों द्वारा लाया गया है।”रात साढ़े 10 बजे के करीब डॉक्टरों की एक टीम टिकैत के स्वास्थ्य की जांच के लिए विरोध स्थल पर पहुंची।’ हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी और सैकड़ों सुरक्षाकर्मी देर रात यूपी गेट पर फ्लाईओवर के नीचे से गुजरने वाले दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे और लिंक रोड पर थे।

गाजीपुर बॉर्डर पर अचनाक बदला गया माहौल
गाजीपुर बॉर्डर गुरुवार को एक तरह से छावनी में तब्दील हो गई थी। बड़ी तादाद में पुलिस के जवान और रैपिड ऐक्शन फोर्स के जवान तैनात थे। गाजीपुर बॉर्डर इलाके में धारा 144 लगा दी गई। ऐसी संभावना थी कि राकेश टिकैत सरेंडर कर सकते हैं या पुलिस उन्हें गिरफ्तार करेगी। इस बीच आगे के कदम को लेकर बीकेयू में मतभेद प्रतीत हुआ और राकेश के भाई नरेश टिकैत ने यह तक ऐलान कर दिया था कि प्रदर्शन खत्म हो जाएगा। उन्होंने मुजफ्फरनगर में एक सभा में कहा, ‘निराश नहीं हों। आज गाजीपुर में विरोध प्रदर्शन खत्म हो जाएगा। पुलिस द्वारा पीटे जाने से बेहतर है कि उस स्थान को खाली कर दें।’ मगर राकेश टिकैत की प्रेस कॉन्फ्रेंस से अचानक माहौल बदल गया।

बैरंग लौटी पुलिस की गाड़ियां
इसका नतीजा यह हुआ कि पुलिस को पीछे हटना पड़ा। देर रात पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स जिन गाड़ियों से वहां पहुंची थी, उन्हीं गाड़ियों से उन्हें वापस लौटना पड़ा। बता दें कि शाम से ही गाजीपुर बॉर्डर पर तनाव सा माहौल था। ऐसा लग रहा था कि कल की रात कुछ भी हो सकता था। मगर आसपास के इलाकों से किसानों के कूच करने की खबर ने आंदोलन को बल दिया और पुलिस को पीछे हटना पड़ा। आंदोलन स्थल पर किसानों का आना लगातार जारी है।

राजनीतिक दलों का फिर मिला समर्थन
लंबे समय से आंदोलन कर रहे किसानों को एक बार फिर से कांग्रेस, आरएलडी समेत कई दलों के नेताओं का समर्थन मिला। टिकैत के रोते हुए वीडियो को देखने के बाद आरएलडी मुखिया चौधरी अजित सिंह भी साथ आ गए। उन्होंने टिकैत और भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत से बात की। रात में करीब पौने आठ बजे के बाद जयंत चौधरी ने ट्वीट करके जानकारी दी। जयंत चौधरी ने कहा कि चिंता मत करो, किसान के लिए जीवन मरण का प्रश्न है। सबको एक होना है, साथ रहना है। यह संदेश चौधरी साहब ने दिया है। वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार शाम ट्विटर पर कहा कि यह साइड चुनने का साइड चुनने का समय है। मेरा फैसला साफ है। मैं लोकतंत्र के साथ हूं, मैं किसानों और उनके शांतिपूर्ण आंदोलन के साथ हूं।

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

LIVE
राज्य के 422 स्कूलों में लागू होगी स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट विद्यालय योजना: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल स्वतंत्रता दिवस परेड में केन्द्रीय बलों में सीमा सुरक्षा बल और राज्य बलों में छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल क... स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर इनका हुआ सम्मान जागरूकता ही साइबर अपराध से बचने का सर्वाेत्तम उपाय: गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू महापौर धीरज बाकलीवाल ने निगम परिसर में किया ध्वजारोहण,अमर शहीदों को किया याद भाजयुमो उतई मण्डल द्वारा आयोजित तिरंगा बाइक रैली मे सांसद विजय बघेल, भाजपा जिलाध्यक्ष जितेन्द्र वर्म... ट्विनसिटी के 1250 लोगो को आयकर विभाग का नोटिस जानिए क्या है वजह मुख्यमंत्री के हाथों किन किन तीन गौठान को मिलेगा राज्य स्तरीय प्रोत्साहन पुरस्कार जिले में उत्कृष्ट सेवा कार्य करने वाले कौन कौन से 70 अधिकारी एवं कर्मचारी होंगे सम्मानित विभाजन के वक्त की पीड़ा को कभी भुलाया नही जा सकता:-जितेंद्र वर्मा पर्यावरण मित्र समिति ने चलाया हर घर तिरंगा अभियान भाजपा की तिरंगा पदयात्रा में सांसद सरोज पांडेय,विजय बघेल हुए शामिल गायत्री मंदिर हनोदा में होगा ध्वजारोहण तैयारी जोरों पर तिरंगा कांग्रेस की बपौती नही भारत माता का आँचल है:-भाजपा (बटरेल में) कैट दुर्ग इकाई ने किया इंदिरा मार्केट में तिरंगा वितरण जन कल्याण समिति पाटन ने निकाली तिरंगा यात्रा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों व भूतपूर्व सैनि... कवि अशोक कुमार यादव को मिला राष्ट्र गौरव सम्मान जानिए क्यों मिला ये सम्मान भारत जोड़ो यात्रा करने वाले मंत्री,विधायक, गरीबों की आवास,‌पेंशन‌ की आवश्यकता को कब पुरा करेंगे:-ढाल... जलसंकट व बुनियादी समस्यायों को लेकर भाजपा करेगी शीघ्र प्रदर्शन गौतम मण्डावी को मिला मैक्सी ट्रक, महेश्वरी नेताम एवं सुमन मण्डावी होंगी खुद की दुकान की मालिक विशेष पिछड़ी जनजाति कमार जाति के 19 युवाओं को मिली नौकरी आजादी का अमृत महोत्सव: ‘‘हमर तिरंगा अभियान’’ पत्नी बनाकर बड़ी साली को रखा था युवक, विवाद होने पर कर दी हत्या सांसद मोहन मंडावी आज अंतागढ़ रेलवे स्टेशन में पैसेंजर ट्रेन को दिखाएंगे हरी झंडी गंगरेल बांध में 97% हुआ जलभराव, रोजाना पहुंच रहे हजारों पर्यटक तिरंगा अभियान के दौरान बड़ा हादसा, करंट की चपेट में आने से निगम कर्मचारी की मौत ब्रह्माकुमारी बहनों ने रक्षाबंधन के अवसर पर विभिन्न स्थानों पर राखी बांधी मुख्यमंत्री ने ‘हमर तिरंगा अभियान‘ पर आधारित फिल्म का किया लोकार्पण जान जोखिम में डाल रहे लोग बहती उफान नाले को पार कर रहे रोका छेका महाअभियान में बाधा डालने वाले जाएगा जेल, आवारा पशुओं की धड़पकड़ लगातार जारी नगपुरा में स्वामी आत्मानंद स्कूल में अव्यवस्था पर नाराज हुए कलेक्टर, प्राचार्य को शो काज नोटिस हर घर तिरंगा अभियान के लिए कलेक्टर ने कलेक्ट्रेट परिवार को वितरित किया तिरंगा अधिवक्ताओ ने निकाली तिरंगा रैली, गांधी जी की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण छत्तीसगढ़ के सभी स्कूलों में शुरू होंगी स्काउट्स गाईड्स की गतिविधियां धुर नक्सलगढ़ में सीआरपीएफ के जवान ग्रामीणों को बांट रहे हैं राष्ट्रीय ध्वज तिरँगा लेकर भाजपा ने सिकोला भाठा पटरी पार क्षेत्र के वार्डो में किया लम्बी पदयात्रा राज्य सरकार द्वारा स्थानांतरण नीति वर्ष 2022 जारी 'लाल सिंह चड्ढा' को पहले दिन मात नहीं दे पाई अक्षय कुमार की फिल्म, किया इतना बिजनेस शायद मुझमें पर्याप्त योग्यता नहीं', कैबिनेट में जगह न मिलने पर बोलीं पंकजा मुंडे कश्मीर में फिर शुरू हुई टारगेट किलिंग, बांदीपोरा में आतंकियों ने बिहार के मोहम्मद अमरेज को मारी गोली प्रकृति की सेवा, परंपरा और संस्कृति का अभिन्न अंग भोजली पर्व: राज्यपाल सुश्री उइके राज्यपाल सुश्री उइके से संस्कृति विभाग के संचालक विवेक आचार्य के नेतृत्व में प्रतिनिधिमण्डल ने की भे... मुख्यमंत्री से राष्ट्रमंडल गेम्स के टीम चैम्पियनशिप में सिल्वर मेडल विजेता बैडमिंटन खिलाड़ी कु. आकर्... शिवनाथ में बाढ़ : भुट्‌टा बाड़ी में फंसे थे पति पत्नी : एसडीआरएफ की टीम ने किया रेस्क्यू बढ़ रहा है शिवनाथ का जलस्तर, प्रभावित45 परिवार के 150 लोगो को राहत केंद्र पहुचाया गया जवानों की कलाईयों पर सजी राखियां, माहेश्वरी समाज की बहनों ने बांधा रक्षा सूत्र,लिया रक्षा का वचन दुर्ग शहर के सभी सड़कों के गड्ढे भरे गए, पीडब्ल्यूडी और निगम की टीम ने की कार्रवाई सडक दुर्घटनाओं में हो रही मौतों के लिए जनप्रतिनिधि एवं प्रशासनिक अमला जिम्मेदार: जीतेन्द्र वर्मा सैकड़ों किसानों से करीब दो करोड़ की धोखाधड़ी कर फरार हुए दंपति गिरफ्तार बैसाखी के सहारे दिव्यांग भी अब मनाएंगे आजादी के अमृत उत्सव मुख्यमंत्री श्री बघेल को प्रयास एजुकेशन सोसायटी की बालिकाओं ने बांधी राखी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को ब्रह्मकुमारी बहनों ने बांधी राखी मुख्यमंत्री को पूर्व सांसद तथा राज्य महिला आयोग अध्यक्ष सहित अन्य बहनों ने बांधे रक्षासूत्र नीतीश कुमार का BJP से गठबंधन तोड़ने के बाद NDA के हाथ से ना केवल बिहार की सत्ता फिसल गई बल्कि उन्हें... रेडियो आज भी प्रासंगिक है और सामुदायिक रेडियो उससे भी अधिक महत्वपूर्ण : अभिषेक पल्लव बरसते बारिश में बूढ़ादेव की भक्ति में जमकर झूमें विधायक देवेंद्र यादव आजादी के 75 साल पूरे होने पर बरसते पानी में तिरंगा लहराते कांग्रेसियों ने निकाली गौरवयात्रा : गूंजते... झमाझम बारिश से शहर हुआ तरबतर,लोग रहे परेशान नये भाजपा अध्यक्ष अरुण साव से मिले विजय-प्रीतपाल, नई जिम्मेदारी की दी बधाई मंत्री संजय निषाद की मुश्किलें और बढ़ी, पहले गैर जमानती वारंट, अब MP-MLA कोर्ट से भी समन भगवान श्री राम का वनवास के समय सबसे ज्यादा साथ हमारे आदिवासी समाज ने हीं दिया - बृजमोहन अग्रवाल निगम का बुलडोजर चला, 134 स्थानों से हटाया गया अवैध अतिक्रमण पाकिस्तान में घर-कारोबार छोड़ खाली हाथ आए और आज हैं 8 फैक्ट्रियां, पढ़ें Rupani के निदेशक के संघर्ष ... आजादी का हीरक महोत्सव : आज से शुरू होगी कांग्रेस की भारत जोड़ो पद यात्रा विश्व आदिवासी दिवस पर विशेष लेख छत्तीसगढ़ के सभी नगरीय निकायों में कृष्ण जन्माष्टमी को ‘कृष्ण कुंज’ का लोकार्पण राजधानी में दो दिवसीय खेल मड़ई का हुआ समापन हर घर तिरंगा अभियान को सफल बनाने चंडी शीतला मंडल की बैठक संपन्न सड़क दुर्घटनाओं को रोकने समन्वित प्रयास जरूरी-मुख्य सचिव मनमौजी व्यापारियों पर कार्यवाही: रेस्टोरेंट चलाने सड़क की जमीन पर बना लिया था शेड, निगम ने ढहाया घर-घर झंडा उपलब्ध कराने महिलाओ ने लगाया स्टाॅल छत्तीसगढ़ विधायक अरुण वोरा सहित कांग्रेसजन हुए गिरफ्तार इस बार 15 अगस्त पर हर घर फहरेगा महिलाओं द्वारा तैयार तिरंगा रतन मुनि के सानिध्य में हुये अरिष्ट नेमीनाथ जी का जाप अनुष्ठान मोबाइल के कारण नाबालिग भाई ने की छोटे भाई की हत्या यादें रफी एवं किशोर की संयुक्त प्रस्तुति सुनहरे पल में शहर के गायकों ने बांधा शमा पानी छोड़े जाने से उत्तर पाटन के किसान खुश, अब हो सकेगी बढिय़ा खेती जेल से रेप के आरोपी को मिली जमानत, छूटते ही उसी लड़की से फिर किया दुष्कर्म अशर्फी देवी अस्पताल में लगवाएं सीसीटीवी, जबरदस्ती पर्ची छीनने वालों पर करवाएं एफआईआर- कलेक्टर रानू ... मुख्यमंत्री से लेफ्टिनेंट वंशिका पाण्डेय ने की सौजन्य मुलाकात छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री बघेल से रायपुर सराफा एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने सौजन्य मुलाकात की लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पास हुआ नेशनल एंटी डोपिंग बिल, जानें इसमें क्या हैं प्रावधान? यंग इंडिया का ऑफिस सील करने पर कांग्रेस बोली, महंगाई और बेरोजगारी पर आंदोलन को दबाने की कोशिश महिला ने मातृशक्ति से न्याय दिलाने की गुहार लगाई 10 अगस्त से देगी धरना भाजयुमों ने भूपेश बघेल के खिलाफ चलाया वाल राइटिंग व पोस्टर अभियान छत्तीसगढ़ में सेवा सहकारी समितियों की चुनाव को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल डरे हुए क्यों :-ढालेश साह... हर घर तिरंगा अभियान को सफल बनाने पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष माया बेलचंदन ने लोगों से की अपील छत्तीसगढ़ धीवर (ढीमर) समाज का शपथ ग्रहण समारोह 31 जुलाई दिन रविवार को रायपुर जोरा में कवि अशोक कुमार यादव के दो कविताएं को कनाडा के पेपर हिंदी अब्रॉड में मिला स्थान शौर्य युवा संगठन कोडिया मनाएगा हरेली महोत्सव 31 जुलाई को मलेरिया से स्कूली… छत्तीसगढ़ मलेरिया से स्कूली छात्रा की मौत राष्ट्रपति के अपमान पर बिफरे भाजपाईयो ने सोनिया और अधीर रंजन पुतला फूंका कवि अशोक कुमार यादव को मिला आज के शिरोमणि रचनाकार प्रशस्ति पत्र भूपेश सरकार ने बढ़ाया छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़वासियों का सम्मान- त्रिलोक श्रीवास आश्चर्य कि आनंद सागर मैं रह कर भी हम दुखी :-स्वामी सदानंद सरस्वती जी विधायक लक्ष्मी ध्रुव के विरुद्ध धोखाधड़ी का मामला दर्ज करने अदालत का आदेश मिशन गुजरात पर अरविंद केजरीवाल, चुनाव से पहले कसी कमर; अगस्त में करेंगे ताबड़तोड़ दौरे 1 रोटी नहीं देने पर बेरहमी से हत्या, दिल्ली में दिल दहला देने वाली वारदात जनपद पंचायत मगरलोड शिक्षाकर्मी भर्ती घोटाला के प्रमुख आरोपी पूर्व सी ई ओ कमला कांत तिवारी की जमानत य...